Friday, July 31, 2020

पांच राफेल लड़ाकू जेट के पहले सेट की प्रेरण

पांच राफेल लड़ाकू जेट के पहले सेट की प्रेरण IAF की टीम में शामिल होने के लिए पांच राफेल विमानों का पहला सेट 29 जुलाई को अंबाला हवाई अड्डे पर उतरा। अंबाला एयर बेस के 4 समीपवर्ती गांवों में धारा 144 सीआरपीसी (आपराधिक प्रक्रिया संहिता) लगाई गई है। छतों पर सार्वजनिक सभा और लैंडिंग दृष्टिकोणों की किसी भी तरह की फोटोग्राफी को कैप्चर करना सख्त वर्जित था। किसी भी प्रकार की आपात स्थिति में वैकल्पिक विकल्प के रूप में जोधपुर एयर बेस को लिया गया था।

हाइलाइट

27 जुलाई को पांच राफेल जेट विमानों ने IAF में शामिल होने के लिए बोर्डो, फ्रांस के मेरिग्नैक एयरबेस से उड़ान भरी। फ्रांस में भारतीय राजदूत श्री जावेद अशरफ ने लड़ाकू जेट के पायलटों के साथ चर्चा की। हवाई जहाजों को दो फ्रांसीसी वायु सेना के टैंकर विमानों के मध्य हवा से ईंधन भरा गया था (उनमें से एक कोविद -19 के खिलाफ मुकाबला करने के लिए भारत का समर्थन करने के लिए 10 स्वास्थ्य विशेषज्ञों की टीम के साथ वेंटिलेटर और परीक्षण किट ले जा रहा है)। लड़ाकू जेटों ने फ्रांस से भारत तक लगभग 7,000 किमी की दूरी तय की और संयुक्त अरब अमीरात के एक एयरबेस में यात्रा के दौरान एक ही पड़ाव लिया। राफेल विमान को तत्काल प्रभाव से पूरी तरह परिचालन में लाया जाएगा।

राफेल डील

भारत सरकार ने वर्ष 2016 में फ्रांस के डसॉल्ट एविएशन के साथ € 7.87 बिलियन के अंतर-सरकारी समझौते (IGA) पर हस्ताक्षर किए थे, जिसमें 36 राफेल लड़ाकू जेट की मांग की गई थी।

राफेल: तकनीकी विनिर्देश

  • राफेल एक मल्टी-रोल कॉम्बैट फाइटर जेट है। यह किसी भी प्रकार के सॉंगी मिशन यानी अंतर्संबंध, हवाई टोही, हवाई वर्चस्व, करीबी हवाई समर्थन, जमीनी समर्थन, गहराई से हड़ताल, जहाज-विरोधी हड़ताल और परमाणु निरोध मिशन का संचालन करने में सक्षम है।
  • ईंधन क्षमता: एकल सीटर के लिए 4,700 किलोग्राम और डबल सीटर के लिए 4,400 किलोग्राम।
  • लड़ाकू रेंज: 1,850 किमी
  • अधिकतम गति: मच 1.8 (मच संख्या ध्वनि की गति के लिए एक विमान की गति का अनुपात है)।

तो दोस्तों यहा इस पृष्ठ पर पांच राफेल लड़ाकू जेट के पहले सेट की प्रेरण के बारे में बताया गया है अगर ये आपको पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने friends के साथ social media में share जरूर करे। ताकि वे इस बारे में जान सके। और नवीनतम अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

पांच राफेल लड़ाकू जेट के पहले सेट की प्रेरण Parinaam Dekho.

No comments:

Post a Comment