Wednesday, August 5, 2020

मोदी ने किया कोविड-19 जांच की तीन अत्याधुनिक परीक्षण प्रयोगशालाओं का शुभारंभ

नई दिल्ली 27 जुलाई।प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज कोविड-19 परीक्षण की तीन अत्‍याधुनिक परीक्षण प्रयोगशालाओं का शुभारंभ किया।

श्री मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इनका शुभारंभ करते हुए कहा कि देश के करोड़ों नागरिक कोरोना वैश्विक महामारी से बहुत बहादुरी से लड़ रहे हैं। आज जिन हाईटैक स्‍टेट ऑफ दा हार्ट टेस्टिंग फैसेलिटी का लांच हुआ है। उससे पश्चिम बंगाल, महाराष्‍ट्र और उत्‍तर प्रदेश को कोरोना के खिलाफ लड़ाई में और ताकत मिलने वाली है।

ये प्रयोगशालाएं भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद(आईसीएमआर)के अंतर्गत नोएडा, मुम्‍बई और कोलकाता में राष्‍ट्रीय संस्‍थानों में स्थित है।

श्री मोदी ने कहा कि परीक्षणों की संख्‍या अधिक होने से संक्रमण का तेजी से पता लगाने और शीघ्र उपचार करने में मदद मिलेगी। इससे कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई को मजबूती मिलेगी। उन्‍होंने कहा कि ये प्रयोगशालाएं सिर्फ कोविड के परीक्षण तक ही सीमित नहीं रहेगी।भविष्‍य में हैपेटाइटिस बी और सी, एचआईवी और डेंगू सहित अनेक बीमारियों की टैस्टिंग के लिये भी इन लैब्‍स में सुविधा उपलब्‍ध कराई जायेगी।

उऩ्होने कहा कि सरकार के समय पर किये गये उपायों की बदौलत कोविड से होने वाली जन हानि के मामले में भारत की स्थिति अन्‍य देशों की तुलना में बेहतर है। रोगियों के स्‍वस्‍थ होने की दर भी अन्‍य देशों से बेहतर है।

श्री मोदी ने कहा जनवरी में कोविड परीक्षण के लिए केवल एक प्रयोगशाला थी, जबकि देश में अब ऐसी करीब 1300 प्रयोगशालाएं हैं। उन्‍होंने कहा कि देश में हर रोज पांच लाख से अधिक नमूनों की जांच की जा रही है और आने वाले सप्‍ताह में यह क्षमता बढ़ाकर 10 लाख करने के प्रयास किये जा रहे है।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

No comments:

Post a Comment