Thursday, August 6, 2020

अनुच्‍छेद 370 में संशोधन और 35ए हटाकर दो केन्‍द्रशासित प्रदेश- जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख बनाए जाने का आज एक वर्ष पूरा



संविधान के अनुच्‍छेद 370 में संशोधन और 35ए हटाकर दो केन्‍द्रशासित प्रदेश- जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख बनाए जाने का आज एक वर्ष पूरा हो रहा है। सुरक्षा एजेंसियों के लिए यह संतोष और उत्‍साह का विषय है कि वर्ष के पहले छह महीने में कोई विरोध-प्रदर्शन नहीं हुआ और कानून व्‍यवस्‍था से जुडी़ केवल 14 घटनाएं हुई।

सरकारी आंकडों के अनुसार इस साल जनवरी से लेकर अब तक कश्‍मीर घाटी में छिटपुट घटनाओं को छोड़कर कोई बड़ी अप्रिय घटना नहीं हुई है। पिछले वर्षों के मुकाबले में अभी तक इस वर्ष कानून व्‍यवस्‍था की स्थिति नियंत्रण में रही और किसी की हिंसक प्रदर्शन में किसी सिविलियन की मौत नहीं हुई है। इससे यह बात साफ है कि घाटी के नौजवानों को इस बात का अहसास होने लगा है कि बेकार के झगडों में कुछ हासिल होने वाला नहीं है। इस साल कुल मिलाकर छोटी मोटी 14 घटनाएं हुई हैं और यह संख्‍या भी पिछले वर्षों के मुकाबले में बहुत कम है। इससे भी यह साफ हो जाता है कि धारा 370 हटने के बाद घाटी में एक बदलाव आया है। आज घाटी में पत्‍थर मारने की घटनाएं नहीं हो रही हैं और घाटी का नौजवान आईएएस और अन्‍य परीक्षाओं में भाग लेकर सफलताएं प्राप्‍त कर रहा है।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे &#8211 अभी वोट करें

No comments:

Post a Comment