Monday, August 10, 2020

भारत और पूर्वी जियांग सीमा पर भूकंप के जबरदस्त झटके, 4.1 रही तीव्रता!..

आज एक बार फिर मै खान पान से जुडी कुछ जरुरी बातों के साथ ये नयी पोस्ट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को आखिरी तक पढ़ते रहे ..

नई दिल्ली। भारत और पूर्वी जियांग सीमा पर भूकंप के जबरदस्त झटके महसूस किए गए हैं। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने बताया कि भूकंप की तीव्रता 4.1 रही। सेंटर ने बताया कि भूकंप के झटके 2.20 बजे महसूस किए गए। बता दें कि, चीन का पूर्वी जियांग क्षेत्र भारतीय सीमा के साथ लगा हुआ है। हालांकि, अभी तक जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है।

6 से 10 किमी. गहराई तक आया भूकंप

अरुणाचल प्रदेश की सीमा के पास स्थित तिब्बत के न्यिंगची क्षेत्र में शनिवार तड़के भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 6.9 मापी गई। चाइना अर्थक्वेक नेटवर्क्स सेंटर (सीईएनसी) के अनुसार, भूकंप सुबह छह बजकर 34 मिनट (बीजिंग के समयानुसार) पर आया।
चीन की सरकारी समाचार समिति शिन्हुआ के मुताबिक, भूकंप की गहराई जमीन से 10 किलोमीटर नीचे थी। तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र में उसी स्थान के आसपास सुबह 8:31 बजे (बीजिंग के समयानुसार) 5 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। दूसरे भूकंप की गहराई जमीन से 6 किलोमीटर नीचे थी।

भूकंप आने पर करें ये उपाय-

भूकंप के दौरान आपको लिफ्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। बाहर जाने के लिए लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें। टेबल, बेड, डेस्क जैसे मजबूत फर्नीचर के नीचे छिप जाएं। कहीं फंस गए हों तो दौड़ें नहीं, इससे भूकंप का ज्यादा असर होगा। अगर आप गाड़ी या कोई भी वाहन चला रहे हो तो उसे फौरन रोक दें। किसी मजबूत दीवार, खंभे से सटकर सिर, हाथ आदि को किसी मजबूत चीज से ढककर बैठ जाएं। वाहन चला रहे हैं तो बिल्डिंग, होर्डिंग्स, खंभों, फ्लाईओवर, पुल से दूर सड़क के किनारे गाड़ी रोक लें। भूकंप आने पर तुरंत सुरक्षित और खुले मैदान में जाएं, बड़ी इमारतों, पेड़ों, बिजली के खंभों से दूर रहें। भूकंप आने पर खिड़की, अलमारी, पंखे, ऊपर रखे भारी सामान से दूर हट जाएं ताकि इनके गिरने से चोट न लगे। </>

No comments:

Post a Comment