Thursday, August 13, 2020

सुशांत सिंह के परिवार ने की माफी की मांग, संजय राउत बोले इस पर करेंगे विचार!..

आज एक बार फिर मै खान पान से जुडी कुछ जरुरी बातों के साथ ये नयी पोस्ट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को आखिरी तक पढ़ते रहे ..

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत का रहस्य रोज हो रहे नए खुलासे के बाद जहां और गहरा गया है तो वहीं दूसरी तरफ इस पर बयानबाजी भी खूब हो रही है। शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत की तरफ से सुशांत के पिता पर दिए बयान के बाद एक नया बवाल शुरू हो गया है। सुशांत के परिवार की तरफ से संजय राउत के बयान पर माफी की मांग के बाद शिवसेना प्रवक्ता ने कहा कि वह इसके ऊपर विचार करेंगे।

संजय राउत ने मीडिया से बात करते हुए कहा- उनकी तरफ से इस बारे में अगर कोई गलती हुई हो तो वे इस पर विचार करेंगे। राउत ने आगे कहा, लेकिन हमें इसको देखना पड़ेगा। जो कुछ भी मैंने कहा उसको लेकर हमारे पास जानकारी थी और सुशांत के परिवार ने जो कुछ भी कहा उस बारे में उनके पास जानकारी थी।
इधर, सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में सुशांत के चचेरे भाई भाजपा विधायक नीरज कुमार बबलू के वकील ने महाराष्ट्र के राज्यसभा सांसद संजय राउत को वकालतन नोटिस भेजा है। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह पर की गई टिप्पणी से आहत होकर विधायक ने उन्हें ये नोटिस भेजा है।

शिवसेना नेता संजय राउत ने रविवार को दावा किया कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में &#8216दबाव की तरकीब का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसके अलावा उन्होंने सुशांत और उनके पिता केके सिंह के रिश्ते पर भी बड़ा बयान दिया है। दरअसल, संजय ने शिवसेना के मुखपत्र &#8216सामना&#8217 में दावा किया कि सुशांत के अपने पिता से मधुर संबंध नहीं थे। उन्होंने लिखा, &#8216सुशांत को पिता की दूसरी शादी स्वीकार्य नहीं थी। बीजेपी ने महाराष्ट्र मंत्रिमंडल के एक युवा मंत्री को इससे जोड़ कर घटना को सनसनीखेज बना दिया। दो अंग्रेजी न्यूज चैनलों ने मुख्यमंत्री को चुनौती देनी शुरू की और पुलिस को भ्रमित कर दिया।

संजय ने लिखा कि सुशांत की मौत से पहले अभिनेता डिनो मोरिया के घर पर कथित तौर पर हुई एक पार्टी को इस मामले से जोड़ा जा रहा। मोरिया और अन्य लोग आदित्य ठाकरे के मित्र हैं और यदि इस दोस्ती की वजह से ठाकरे को निशाना बनाया जा रहा, तो यह गलत है। संजय ने आगे लिखा, &#8216यदि कोई व्यक्ति राजनीतिकरण और दबाव की तरकीब का इस्तेमाल करना चाहता है, तो हमारे देश में कुछ भी हो सकता है। ऐसा प्रतीत होता है कि सुशांत प्रकरण की पटकथा पहले से लिखी गई थी। परदे के पीछे जो कुछ हुआ है, वह महाराष्ट्र के खिलाफ साजिश है।

</>

No comments:

Post a Comment