Saturday, August 8, 2020

देखें, भारत में इतना विकराल हो चूका है कोरोना, शुरू से अभी तक के ये आंकड़े देख चौंक जायेंगे..

आज एक बार फिर मै कुछ टेक्नोलॉजी से जुडी नयी पोस्ट की अपडेट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को अंत तक पढ़ते रहे ..

देश में पहले एक लाख मरीज 110 दिन में मिले थे, अब सिर्फ दस दिन में पांच लाख से अधिक लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। कुल मरीज 20 लाख से ज्यादा हो चुके हैं। शुरुआती 110 दिनों में रोज औसतन 909 मरीज मिले। पिछले दस दिनों में औसतन 50 हजार मरीज मिले हैं।

सरकारी आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि देश में कुल संक्रमितों की संख्या एक से पांच लाख 26 जून को हुई थी और इसमें केवल 39 दिन लगे थे। इसके बाद संक्रमण की रफ्तार और तेज हुई और 16 जुलाई को कुल मरीजों का आंकड़ा 10 लाख हो गया वो भी सिर्फ बीस दिन के भीतर। इसके बाद कोरोना ने और पांच लाख लोगों को अपना शिकार बनाया और बारह दिन के भीतर ही 28 जुलाई को कुल मरीजों का आंकड़ा 15 लाख हो गया।

संक्रमण की रफ्तार जिस गति से बढ़ रही है उससे लगता है कि भारत संक्रमितों की संख्या वाला सबसे बड़ा देश होगा। जॉन हॉपकिन्स कोरोना रिसोर्स सेंटर के अनुसार अमेरिका में अभी 48 लाख 83,657 मरीज हैं। इसी तरह ब्राजील में 29,12,212 मरीज हैं। देश में 30 दिनों के भीतर 15 लाख मरीज मिले तो ब्राजील को पीछे छोड़ देगा।

जब पांच लाख मरीज मिले तब तक 169 दिन गुजर चुके थे और 15,301 मरीजों की मौत हुई थी। अब 28 जुलाई तक मौतों का आंकड़ा 33,425 था और संक्रमित 15 लाख के पार। 29 जुलाई से सात अगस्त यानि दस दिन के बीच मरीजों का आंकड़ा 15 से 20 लाख हुआ है और मौतें 41,585 हो गई हैं।

देश में कुल 41,585 मरीजों की मौत हुई है। महाराष्ट्र 16,792 मौतों के साथ पहले तो देश के सबसे बड़ा राज्य उत्तर प्रदेश 1902 मौतों के साथ छठे नंबर पर है।

आईसीएमआर के अनुसार देश में कुल सैंपल जांच का आंकड़ा ढ़ाई करोड़ के करीब पहुंच गया है। आईसीएमआर के अनुसार देश में छह अगस्त तक कुल 2,27,88,393 सैंपल की जांच की जा चुकी है। बृहस्पतिवार छह अगस्त को कुल 6 लाख 39,042 सैंपल की जांच की गई।

</>

No comments:

Post a Comment