Wednesday, September 30, 2020

देखें, चुनाव से पहले पुष्पम प्रिय की पार्टी को झटका, 71 सीटों पर नही लड़ सकती चुनाव..

आज एक बार फिर मै कुछ टेक्नोलॉजी से जुडी नयी पोस्ट की अपडेट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को अंत तक पढ़ते रहे ..

अखबारों में विज्ञापन छपवाकर खुद को भावी मुख्यमंत्री बताने वाली और रातोंरात सुर्खियों में आई पुष्पम प्रिया चौधरी को बड़ा झटका लग सकता है। पहले चरण में उनकी पार्टी प्लूरल्स 71 सीटों पर पार्टी सिम्बल पर अपने उम्मीदवार नहीं उतार सकती है।

ऐसा इसलिए क्योंकि अब तक पुष्पम प्रिया की पार्टी प्लूरल्स का रजिस्ट्रेशन नहीं हो सका है। चुनाव आयोग के पास यह मामला लंबित है और 8 अक्टूबर को 25 दिन पूरे हो रहे हैं। अगर 8 अक्टूबर तक प्लूरल्स के रजिस्ट्रेशन पर कोई आपत्ति नहीं दर्ज होती है तो 9 अक्टूबर को उनकी पार्टी का स्वतः रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

क्यों लग सकता है पुष्पम प्रिया को झटका?
बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का नामांकन एक अक्टूबर से शुरू हो जाएगा।
नामांकन की आखिरी तारीख 8 अक्टूबर को है। ऐसे में 8 अक्टूबर तक अगर प्लूरल्स का रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ तो पुष्पम प्रिया को बड़ा झटका लग सकता है। ऐसे में पार्टी के पास सिर्फ यही विकल्प बचता है कि उनके उम्मीदवार निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरें।

प्लूरल्स के मीडिया प्रभारी मुकेश कुमार का कहना है कि चुनाव आयोग की एक प्रक्रिया होती है। प्लूरल्स पार्टी का रजिस्ट्रेशन चुनाव आयोग में विचाराधीन है और इस पर कुछ भी कहना उचित नहीं है। हमें उम्मीद है कि इस लोकतांत्रिक प्रक्रिया में प्लूरल्स की भागीदारी को सुनिश्चित किया जाएगा। मुकेश ने बताया कि पार्टी बिहार के सभी 243 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है। प्लूरल्स की टीम ने पिछले दिनों चुनाव आयोग के अधिकारियों से भी मुलाकात की है।

Tags: Bihar Election

</>

No comments:

Post a Comment