Sunday, October 11, 2020

पुजारी की हत्या: गहलोत सरकार ने मानी मांग, 10 लाख मुआवजे का ऐलान!..

आज एक बार फिर मै खान पान से जुडी कुछ जरुरी बातों के साथ ये नयी पोस्ट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को आखिरी तक पढ़ते रहे ..

जयपुर। राजस्थान के करौली में पुजारी की हत्या के बाद गहलोत सरकार​ घिरी हुई है। वहीं, परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया था। इसके बाद गहलोत सरकार ने पीड़ित परिवार की मांग को मान लिया है। राजस्थान सरकार की ओर से 10 लाख रुपये और एक संविदा कर्मी की नौकरी का वादा किया गया है।

पढ़ें :- राजस्थान: जिंदा जलाए गए पुजारी का अंतिम संस्कार करने से परिजनों ने किया इनकार, रखी यह मांग

साथ ही प्रधानमंत्री मंत्री आवास योजना के तहत एक लाख रुपये पीड़ित परिवार को दिए जाएंगे। इस मामले में डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि कुछ हद तक अब मिला न्याय।
इसके साथ ही सरकार ने थानेदार और पटवारी को हटाने की घोषणा कर दी है। वहीं डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने धरना खत्म होना का भी ऐलान कर दिया है।सहमति बनने के बाद शनिवार को मृतक बाबूलाल वैष्णव की अंतिम यात्रा निलाकी गई। अर्थी को क्षेत्रीय सांसद डॉ. मनोज राजोरिया ने कंधा दिया।

पुजारी की अंतिम यात्रा में माहौल गमगीन हो गया था। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष बृज लाल डिकोलिया और कई ग्रामीण भी शामिल हुए। बता दें कि राजस्थान के करौली में दबंगों ने पुजारी के ऊपर पहले पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगा दी थी, जिससे अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया था।

पढ़ें :- राजस्थान: जमीनी विवाद में बेखौफ दबंगों ने पुजारी को जिंदा जलाया, मौत

</>

No comments:

Post a Comment