Sunday, October 18, 2020

देखें ,भारी बारिश से मचा हाहाकार, 50 लोगों की मौत, आज भी इन राज्यों में बरसेगा कहर!..

आज एक बार फिर मै जीवन से जुड़े कुछ जरुरी तथ्यों के साथ ये नयी पोस्ट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को आखिरी तक पढ़ते रहे ..

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद (Hyderabad) में इस सप्ताह की शुरुआत में शहर के कई हिस्सों में भारी बाढ़-बारिश (Heavy rain) से मची तबाही के बाद शनिवार को फिर से महानगर के कई इलाकों में भारी बारिश दर्ज की गई और जलजमाव के कारण यातायात बाधित हो गया. जगह-जगह बारिश का पानी भरने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. इसके साथ ही मौसम विभाग ने रविवार को भी शहर के कुछ इलाकों में बारिश होने का अनुमान जताया है.

हैदराबाद में आज भी बारिश

तेलंगाना सरकार के अनुसार राज्‍य में भारी बारिश के चलते 50 लोगों की मौत हुई है. अनुमान के मुताबिक 9,000 करोड़ रुपये का नुकसान बारिश के कारण हुआ है.
कई इलाके अभी भी पानी में डूबे हुए हैं. जीएचएमसी के निगरानी एवं आपदा प्रबंधन निदेशक विश्वजीत कामपति के एक ट्वीट के अनुसार ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) के आपदा प्रतिक्रिया बल (डीआरएफ) के कर्मी लगातार जलजमाव और बाढ़ मे बचाव कार्य कर रहे है.
विज्ञापन

मध्‍य प्रदेश, छत्‍तीसगढ़ और गुजरात में बारिश का अनुमान
अनुमान जताया गया है कि अगले दो से तीन दिनों में मध्‍य प्रदेश में अच्‍छी बारिश हो सकती है. मप्र के अलावा छत्‍तीसगढ़ और गुजरात में भी बारिश होने की संभावना जताई गई है. अनुमान के अनुसार जबलपुर, होशंगाबाद, भोपाल, इंदौर में कहीं-कहीं बारिश होने की उम्मीद है. पश्चिम मध्य प्रदेश में अच्छी बारिश होगी. ग्वालियर-चंबल संभाग सहित हिस्‍सों में मध्यम से हल्की बारिश के आसार हैं. स्‍कायमेट वेदर के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान, दक्षिणी छत्तीसगढ़, दक्षिणी मध्य प्रदेश और उत्तरी कोंकण और गोवा में कुछ हिस्सों पर हल्की से मध्यम बौछारें गिरने की संभावना है.

मौसम विभाग ने मछुआरों को मध्य और उत्तर अरब सागर में नहीं उतरने की चेतावनी दी है. मौसम विभाग ने यह भी कहा कि सौराष्ट्र और कच्छ के तटीय जिलों में अगले 24 घंटे में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की भी संभावना है.

अरब सागर के ऊपर बना निम्न वायुदाब का क्षेत्र शनिवार को और प्रबल हो गया, लेकिन यह भारतीय तट से दूर जा रहा है तथा पश्चिमी तट पर कोई प्रतिकूल मौसम की संभावना नहीं है. मौसम विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग (सीडब्ल्यूडी) ने यह जानकारी दी. सीडब्ल्यूडी ने बताया कि शुक्रवार को उत्तर महाराष्ट्र तट के पास पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर कल का निम्न वायुदाब का क्षेत्र पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ गया है और अवदाब में तब्दील हो गया है. इसके अगले 48 घंटों के दौरान पश्चिम की ओर और अधिक बढ़ने तथा उसके बाद क्रमिक रूप से कमजोर पड़ने की संभावना है. ( Khabar Arena )

</>

No comments:

Post a Comment