Sunday, October 18, 2020

देखें, घर के अन्दर इन 5 बातों का रखें ख़ास ख्याल, वास्तुशास्त्र के अनुसार मन जाता अशुभ..

आज एक बार फिर मै कुछ टेक्नोलॉजी से जुडी नयी पोस्ट की अपडेट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को अंत तक पढ़ते रहे ..

कई बार मनुष्य अपने जीवन में उन्नति और सुख-समृद्धि लाने के लिए अनेक साधन जुटाता है लेकिन उसके जीवन सभी भौतिक सुख होने के बाद भी उसकी परेशानियां दूर नहीं होती हैं। व्यक्ति के जीवन में आ रही सभी परेशानियों का कारण उसके घर में उत्पन्न वास्तु दोष होता है, लेकिन वह व्यक्ति उसे देख-समझ नहीं पाता है। क्योंकि बहुत से लोग वास्तु शास्त्र में यकीन ही नहीं रखते हैं। इसलिए यदि आपको भी वास्तु दोष के कारण समस्याओं का सामना करना पड़ता है, तो आप भी वास्तु शास्त्र के कुछ उपाय अपनाकर इन मुश्किलों से निजात पा सकते हैं। कई बार व्यक्ति अपने जीवन में कुछ गलतियां कर बैठता है जिसके कारण भी उसे वास्तु दोष का सामना करना पड़ता है।
तो आइए आप भी जानें ऐसे ही कुछ वास्तु शास्त्र के उपायों के बारे में जरूरी बातें।

खाली तिजोरी: घर या दुकान में खाली तिजोरी रखने से दरिद्रता आती है। इसलिए आज अपने घर अथवा दुकान की तिजोरी में कोई ऐसी कीमती वस्तु, धन अथवा आभूषण जरुर रखें जिसकी आपको कभी वहां से हटाने की जरूरत ही ना पड़े।

अलमारी बंद रखें: वास्तु शास्त्र के अनुसार खुली हुई अलमारी घर में खुलने से नेगेटिव एनर्जी का संचार होता है। जिसकी वजह व्यक्ति को बीमारी और समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसलिए ध्यान रखें कि अपने घर की अलमारी कुछ काम पड़नें पर ही खोलें।

घर में पलंग अथवा बेड की स्थिति: वास्तु शास्त्र के अनुसार अपने घर में किसी भी बीम के नीचे पलंग अथवा बेड को रखना शुभ नहीं माना जाता। किसी बीम के नीचे शयन करने वाला व्यक्ति हमेशा तनाव से घिरा रहता है। उस व्यक्ति के प्रत्येक कार्य में बाधा आती हैं। इसलिए अपने बेड या पलंग को बीम के नीचे से हटा दें।

दर्पण: अपने शयनकक्ष किसी भी प्रकार को कोई दर्पण ना रखें। शयनकक्ष में दर्पण रखने से दंपत्ति के बीच विवाद की स्थिति बनी रहती है। और दोनों के जीवन में तनाव पैदा होता है। ऐसा होने पर उनकी आर्थिक स्थिति भी खराब होने लगती है।

बाथरूम: बाथरूम का दरवाजा हमेशा बंद रहना चाहिए। बाथरूम का द्वार खुला रहने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का वास हो जाता है। और घर में अशांति का वातावरण उत्पन्न हो जाता है। ( Khabar Arena )

</>

No comments:

Post a Comment