Sunday, October 25, 2020

IPL 2020: प्लेऑफ से ये 3 टीमें लगभग बाहर, देखें पॉइंट्स टेबल

आईपीएल (IPL 2020) में अब अपने आखिरी पड़ाव में पहुंच रहा है. टूर्नामेंट के 56 में से 43 लीग मैच हो चुके हैं. प्लेऑफ (IPL 2020 Playoff) की तस्वीर भी साफ होने लगी है. मुंबई इंडियंस, दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर प्लेऑफ में जगह बनाने से महज एक जीत दूर हैं. यह भी संभव है कि ये टीमें अब बिना मैच जीते भी टॉप-4 में दिखें. दूसरी ओर चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) की उम्मीदें धराशायी हो चुकी हैं. बाकी बची चार टीमें कोलकाता नाइटराइडर्स, किंग्स इलेवन पंजाब, सनराइजर्स हैदराबाद और राजस्थान रॉयल्स. कहने को तो चौथे स्थान के लिए इन चार टीमों में ही मुकाबला है. लेकिन अगर आप प्वाइंट टेबल और शेड्यूल पर नजर डालेंगे तो कुछ और ही तस्वीर उभरेगी.

आईपीएल 2020 में यह सप्ताह किलर साबित होने वाला है. इस हफ्ते कइयों की उम्मीदें स्वाहा होंगी और कुछ-एक की उड़ान भी भरेंगी. मुंबई इंडियंस, दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स सात-सात मैच जीतकर 14-14 अंकों के साथ पहले तीन स्थान पर हैं. दिल्ली के अभी तीन और मुंबई व बैंगलोर के चार-चार मैच बाकी हैं. अगर ये टीमें एक-एक मैच भी जीत लें तो यह प्लेऑफ खेलने की गारंटी होगी. अगर इनमें से कोई टीम अपने सभी मैच हार जाएं तब भी वह रेस में बनी रहेगी. हालांकि, तब यह संभव है कि वह नेट रनरेट या ऐसे किसी समीकरण में उलझ जाए.

चौथे स्थान के लिए कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) और किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) के बीच मुख्य मुकाबला है. वैसे तो इस नंबर के लिए हैदराबाद (SRH) और राजस्थान (RR) की टीमें रेस में हैं, लेकिन ये दोनों अब पिछड़ती हुई नजर आ रही हैं. ये दोनों टीमें सात-सात मैच हार चुकी हैं. महेंद्र सिंह धोनी की टीम चेन्नई तो 8 मैच हार चुकी है. अब वह इस सीजन से ज्यादा अगले सीजन पर फोकस करना चाहती है और इस कोशिश में युवाओं को आजमाना शुरू कर चुकी है.

बहरहाल, हम प्वाइंट टेबल पर नीचे की पांच टीमों की बात करते हैं और जानते हैं कि किस टीम का प्लेऑफ में पहुंचने का दावा मजबूत है और कौन सी टीम अब रेस से बाहर हो चुकी है.

केकेआर (KKR) की टीम फिलहाल 11 मैचों में 12 अंकों के साथ चौथे नंबर पर है. किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) की टीम 10 अंक के साथ पांचवें नंबर पर है. दोनों टीमों के तीन-तीन मैच बाकी हैं. अंकों में केकेआर आगे है. लय में किंग्स बेहतर दिखती है, जिसने लगातार 4 मैच जीत लिए हैं. इन दोनों टीमों का सोमवार को मुकाबला है. यह मैच एक तरह से सेमीफाइनल की तरह होगा. जो टीम जीती वह प्लेऑफ की रेस में आगे निकल जाएगी.

हैदराबाद के सामने 3 पहाड़ लांघने की चुनौती
सनराइजर्स हैदराबाद और राजस्थान रॉयल्स ने 11 मैच खेले हैं. दोनों टीमों के चार-चार जीत से आठ-आठ अंक हैं. कागज में तो यह बराबरी का मुकाबला दिखता है, लेकिन मैदान पर ऐसा नहीं है. हैदराबाद के अगले तीन मुकाबले दिल्ली, मुंबई और बैंगलोर से है, जो आईपीएल 2020 की तीन सबसे मजबूत टीमें हैं. उसके लिए तीनों मैच जीतना टेढ़ी खीर होगी. राजस्थान को अब मुंबई, पंजाब और कोलकाता से खेलना है. ऐसे में उसका रास्ता भी आसान नहीं है.

चेन्नई को विरोधियों की हार चुन-चुनकर चाहिए
चेन्नई सुपरकिंग्स का काम लगभग तमाम हो चुका है. वह टूर्नामेंट में सबसे कम 3 मैच जीती है. उसके प्लेऑफ में पहुंचने की संभावना पर लेख लिखे जा रहे हैं, लेकिन उनमें इतनी शर्तें हैं कि शायद कप्तान धोनी को भी याद ना रहें. इन सबका लब्बोलुआब यह है कि चेन्नई अपने तीनों मैच जीते. इसके बाद कोलकाता एक भी मैच ना जीते. किंग्स एक मैच से ज्यादा ना जीते. हैदराबाद और राजस्थान दो-दो मैच से ज्यादा ना जीतें. और जब यह सब हो जाए तो फिर नेट रनरेट में चेन्नई इन सबसे आगे रहे. अब इतनी चीजें चेन्नई के बस में तो नहीं हैं. हां, उसके फैंस की दुआएं काम कर गईं तो यह सब हो जाएगा. क्रिकेट के समीकरण में यह असंभव तो नहीं, पर इससे कम भी नहीं है. ( Khabar Arena )

</>

No comments:

Post a Comment