Monday, November 9, 2020

हैदराबाद ने खुद गले लगाई हार, IPL फाइनल में पहुंचकर दिल्ली ने रचा इतिहास

IPL के 13वें सीजन के दूसरे क्वालिफायर में दिल्ली कैपिटल्स (DC) ने सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) को 17 रन से हरा दिया। इसी के साथ दिल्ली पहली बार लीग के फाइनल में जगह बनाई है। जहां 10 नवंबर को उसका मुकाबला डिफेंडिंग चैम्पियन मुंबई से होगा।

अबु धाबी में खेले गए मैच में टॉस जीतकर बैटिंग करते हुए दिल्ली ने हैदराबाद को 190 रन का टारगेट दिया था। जवाब में हैदराबाद 20 ओवर में 8 विकेट पर 172 रन ही बना सकी। केन विलियम्सन ने लीग में अपनी 15वीं फिफ्टी लगाई। उन्होंने 67 रन की पारी खेली। अब्दुल समद ने 33 रन बनाए। दिल्ली के कगिसो रबाडा ने 4, मार्कस स्टोइनिस ने 3 और अक्षर पटेल ने एक विकेट लिया।

नॉकआउट में विलियम्सन की दूसरी फिफ्टी
केन विलियम्सन (67) ने आईपीएल में अपनी 15वीं फिफ्टी लगाई। स्टोइनिस ने उन्हें रबाडा के हाथों कैच आउट कराया। विलियम्सन नॉकआउट (प्ले-ऑफ) में 2 फिफ्टी लगाने वाले इस सीजन के पहले और ओवरऑल 6वें बल्लेबाज हैं। इससे पहले 2013 में ड्वेन स्मिथ, 2014 में सुरेश रैना, 2015 में लेंडल सिमन्स, 2016 में डेविड वॉर्नर और 2019 में शेन वॉटसन ने ये कारनामा किया था।

हैदराबाद ने 5 ओवर में गंवाए 3 विकेट
दिल्ली की शुरुआत अच्छी नहीं रही। कप्तान डेविड वॉर्नर, प्रियम गर्ग और मनीष पांडे शुरुआती 5 ओवर में ही चलते बने। वॉर्नर को 2 रन के निजी स्कोर पर कगिसो रबाडा ने आउट किया। इसके बाद प्रियम गर्ग (17) और मनीष पांडे (21) को मार्कस स्टोइनिस ने एक ही ओवर में आउट किया।

दिल्ली ने बनाए 3 विकेट पर 189 रन
दिल्ली ने 20 ओवर में 3 विकेट पर 189 रन बनाए। शिखर धवन ने लीग में अपनी 41वीं फिफ्टी लगाई। यह लीग के प्ले-ऑफ मुकाबलों में उनका पहला 50+ स्कोर है। उन्होंने सबसे ज्यादा 78 रन की पारी खेली। शिमरॉन हेटमायर 42 रन बनाकर नाबाद रहे। हैदराबाद के लिए संदीप शर्मा, जेसन होल्डर और राशिद खान को 1-1 विकेट मिला।

धवन सबसे ज्यादा फिफ्टी लगाने वाले भारतीय
धवन ने IPL में रिकॉर्ड सबसे ज्यादा 41 फिफ्टी लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं। धवन के बाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली भी लीग में 39 फिफ्टी लगा चुके हैं। सबसे ज्यादा फिफ्टी लगाने का रिकॉर्ड हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर (48) के नाम है। वहीं, धवन के नाम सीजन में 2 शतक समेत 600 से ज्यादा रन हैं।

तीसरे ओवर में होल्डर ने स्टोइनिस का कैच छोड़ा
पारी के तीसरे ओवर में जेसन होल्डर ने मार्कस स्टोइनिस का कैच छोड़ा। उस वक्त स्टोइनिस 3 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे। उसके बाद उन्होंने खुलकर बल्लेबाजी की। होल्डर के दूसरे ओवर में स्टाइनिस ने 3 चौकों और 2 छक्के समेत 18 रन जड़े। उन्होंने धवन के साथ मिलकर पावर-प्ले में 65 रन जोड़े।

86 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप हुई
स्टोइनिस और धवन ने पहले विकेट के लिए 86 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप की। स्टोइनिस 38 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 5 चौके और एक छक्का लगाया। उन्हें राशिद खान ने शानदार बॉल पर बोल्ड किया।

कप्तान अय्यर का बल्ला नहीं चला
कप्तान श्रेयस अय्यर इस मैच में भी कुछ खास नहीं कर सके और सिर्फ 21 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 20 बॉल खेलीं और सिर्फ एक चौका लगा पाए। उन्हें जेसन होल्डर ने आउट किया। क्वालिफायर-1 में अय्यर अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे। 

No comments:

Post a Comment